WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

RSMSSB Lab Assistant Online Test Series-2 राजस्थान प्रयोगशाला सहायक ONLINE TEST सीरीज, पिछली परीक्षाओं में पूछे गये महत्वपूर्ण प्रश्न

By | June 7, 2022

RSMSSB Lab Assistant Test Series-02 , राजस्थान प्रयोगशाला सहायक परीक्षा के लिए 25 महत्पूर्ण प्रश्न, Rajasthan Lab Assistant Exam Questions Series 02 : राजस्थान प्रयोगशाला सहायक परीक्षा की तैयारी कर रहे विधार्थियों के लिए यह टेस्ट सीरीज बहुत हेल्पफुल रहने वाली है. क्युकी इसमें आपको परीक्षा की द्रष्टि से 25 महत्वपूर्ण प्रश्न है, जो की परीक्षा में पूछे जा सकते है.

बता दे की राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा Lab Assistant की लिखित परीक्षा 28th & 29th जून 2022 को आयोजित करवाई जाएगी | इसलिए आपके पास तैयारी के लिए बहुत कम समय बचा है, इसलिए आप Rajasthan Lab Assistant notes की सहायता से भी अपनी तैयारी को बेहतर कर सकते है. Rajasthan Lab Assistant Notes प्राप्त करने के लिए निचे क्लिक करे:

“Rajasthan Lab Assistant Notes”यहाँ से प्राप्त करे!

RSMSSB Lab Assistant ONLINE TEST Series 2 ( Physics Chemistry Biology पर आधारित प्रश्न )

Q.1) किस तरह की ‘त्रुटि’ में अंतरकाशी स्थान में धनायन की उपस्थिति होती है ?

Join सरकारी नौकरी Telegram
  1. फ्रेंकल त्रुटि/दोष 
  2. धातु न्यूनता त्रुटि/दोष 
  3. शॉटकी त्रुटि/दोष
  4. रिक्तिका त्रुटि/दोष

Ans. फ्रेंकल त्रुटि/दोष

Solution | फ्रेंकेल त्रुटि (जिसे फ्रेंकेल युग्म/अव्यवस्था के रूप में भी जाना जाता है) जालक क्रिस्टल में एक त्रुटि होती है जहाँ एक परमाणु या आयन अपने स्वयं के आलावा सामान्यआतुर पर किसी खाली स्थान को अधिकृत कर लेते हैं। परिणामस्वरूप परमाणु या आयन अपने स्वयं के खाली स्थान को छोड़ देते हैं।

Q.2) कमरे के ताप पर सोडियम काय केन्द्रित घनीय जालक में क्रिस्टलीकृत होता है । जिसके किनारे की लंबाई an 4.24 Å है। सोडियम (Na का परमाणु भार = 23) का सैद्धान्तिक घनत्व है – 

  1. 1.002 g cm–3 
  2. 2.002 g cm–3 
  3. 3.002 g cm–3 
  4. 4.002 g cm–3 

Ans. 1.002 g cm–3 

Q.3) वर्षा की बूंदे गोलाकार आकृति की होती है, इसका कारण है –

  1. पृष्ठ तनाव 
  2. केशिकाकर्षण 
  3. नीचे की ओर गति 
  4. गुरूत्वाकर्षण बल के कारण लगने वाला त्वरण

Ans. पृष्ठ तनाव

Solution | जल के पृष्ठीय तनाव के कारण वर्षा की बूंदें लगभग गोलाकार संरचना में बनने लगती हैं।

Q.4) द्रव के प्रवाह के आंतरिक प्रतिरोध को कहते हैं –

  1. द्रवता 
  2. विशिष्ट प्रतिरोध 
  3. श्यानता 
  4. पृष्ठ तनाव

Ans. श्यानता 

Solution | जब एक तरल पदार्थ ठोस के सापेक्ष गति करता है या जब दो तरल पदार्थ एक-दूसरे के सापेक्ष गति करते हैं। तरल पदार्थ की गति (अर्थात् तरलता) के लिए आंतरिक प्रतिरोध दर्शाने वाला गुण श्यानता कहलाता है। 

Q.5) पृष्ठ तनाव की इकाई है –

  1. dynes cm–2
  2. ergs/cm
  3. J m–1
  4. Nm–1

Ans. Nm–1

Q.6) गैसों के गतिज ऊर्जा सिद्धान्त के संदर्भ में इनमें से कौन सा कथन सही नहीं है?

  1. गैस सूक्ष्म कणों से मिलकर बनती है जिसे अणु कहते हैं। 
  2. अणुओं की गति यादृच्छिक होती है।
  3. अणुओं के मध्य टक्कर होने पर ऊर्जा की हानि होती है। 
  4. गैस को गर्म करने पर अणुओं की गति बढ़ जाती है।

Ans. अणुओं के मध्य टक्कर होने पर ऊर्जा की हानि होती है। 

Q.7) यंग के द्वि-स्लिट प्रयोग में यदि पीले प्रकाश के एकवर्णी स्रोत को एक लाल प्रकाश वाले से बदल दिया जाए तो फ्रिंज चौड़ाई _________

  1. बढ़ जायेगी। 
  2. घट जायेगी। 
  3. अपरिवर्तित रहेगी। 
  4. गायब हो जायेगी।

Ans. बढ़ जायेगी। 

Q.8)  विभवमापी, वोल्टमीटर की तुलना में विभवान्तर अधिक शुद्धता से नापता है, क्योंकि : 

  1. इसका तार कम प्रतिरोध का है। 
  2. इसका तार उच्च प्रतिरोध का है । 
  3. यह बाहरी परिपथ से उच्च धारा लेता है । 
  4. यह बाहरी परिपथ से धारा नहीं लेता है ।

Ans. यह बाहरी परिपथ से धारा नहीं लेता है ।

Q.9) क्या हम ताँबे के तार का उपयोग विभवमापी (potentiometer) तार के रूप में कर सकते हैं? सही विकल्प चुनिये।  

  1. नहीं, क्योंकि इसकी प्रतिरोधकता बहुत अधिक होती है। 
  2. हाँ, क्योंकि इसकी प्रतिरोधकता कम होती है। 
  3. नहीं, क्योंकि इसकी प्रतिरोधकता कम होती है एवं प्रतिरोध का तापगुणांक बहुत अधिक होता है।
  4. हाँ, क्योंकि इसके प्रतिरोध का तापगुणांक बहुत अधिक होता है।

Ans. नहीं, क्योंकि इसकी प्रतिरोधकता कम होती है एवं प्रतिरोध का तापगुणांक बहुत अधिक होता है।

Q.10) एक विभवमापी तार में एक सतत वोल्टेज 3 V प्रवाहित किया जाता है। 1.08 V वि.वा.ब, वाला सैल 216 सेमी लम्बे तार पर विभवांतर से संतुलित होता है। विभवमापी तार की कुल लंबाई होगी –

  1. 200 सेमी 
  2. 400 सेमी 
  3. 600 सेमी 
  4. 800 सेमी

Ans. 600 सेमी

Q.11) एक आवेशित तेल की बूंद 3 × 104 V m–1 के समान क्षेत्र में लटकी हुई है, वह न तो नीचे गिरती है, ना ही ऊपर उठती है। तेल की बूँद पर आवेश है (बूँद का द्रव्यमान 9.9 × 10–15 kg and g ≃ 10 ms–2) : 

  1. 3.3 × 10–18 C 
  2. 3.2 × 10–18 C 
  3. 1.6 × 10–18 C 
  4. 4.8 × 10–18 C 

Ans. 3.3 × 10–18 C 

Q.12) दो एकसमान नलियों A व B में, नली A के दोनों सिरे खुले हैं व नली B का एक सिरा बंद है। नलियों A व B की मूल आवृत्तियों का अनुपात (A : B) होगा –

  1. 1 : 2 
  2. 1 : 4 
  3. 2 : 1 
  4. 4 : 1

Ans. 2 : 1 

Q.13) जब एक स्थिर प्रेक्षक को ध्वनि की आवृत्ति दुगनी महसूस हों तो ध्वनि स्रोत का वेग ज्ञात कीजिए, (ध्वनि का वेग = 330 ms–1) है।

  1. 330 ms–1
  2. 165 ms–1
  3. –330 ms–1
  4. –165 ms–1

Ans. 330 ms–1

Q.14) एक 5 किग्रा का गट्टा (collar) एक स्प्रिंग जिसका स्प्रिंग नियतांक 500 Nm–1 है, से जोड़ा गया है। यह एक समतल क्षैतिज सतह पर बिना घर्षण के गति करता है, जैसा चित्र में दर्शाया गया है। गट्टे को संतुलित अवस्था से 10.0 सेमी विस्थापित कर छोड़ा जाता है। गट्टे का दोलन काल है : 

  1. 6.28 s
  2. 62.8 s
  3. 0.0628 s
  4. 0.628 s

Ans. 0.628 s

Q.15) एक बच्चा झूले पर झूल रहा है। उसकी जमीन से निम्नतम व अधिकतम ऊँचाई क्रमशः 0.75 मीटर व 2 मीटर है। उसकी अधिकतम चाल होगी –

  1. 10 मी./से. 
  2. 5 मी./से. 
  3. 8 मी./से. 
  4. 15 मी./से.

Ans. 5 मी./से. 

Q.16) दो समान ताप के बीच कार्य करने वाले सभी उत्क्रमणीय ऊष्मा इंजन की दक्षताएं —

  1. बराबर होती हैं। 
  2. प्रयुक्त ईंधन पर निर्भर करती हैं। 
  3. दाब पर निर्भर करती हैं। 
  4. आयतन पर निर्भर करती हैं।

Ans. बराबर होती हैं।

Q.17) एक आदर्श ऊष्मा इंजन में कार्नो चक्र 227°C और 127°C के बीच निष्पादित होता है। उच्च ताप पर यह 104 जूल ऊष्मा अवशोषित करता है। ऊष्मा की मात्रा जो कार्य में परिवर्तित होगी- 

  1. 2000 जूल 
  2. 4000 जूल 
  3. 8000 जूल 
  4. 5600 जूल

Ans. 2000 जूल 

Q.18) जब किसी गैस पर 20 J कार्य किया जाता है, तो 40 J ऊष्मा ऊर्जा उत्सर्जित होती है । यदि गैस की प्रारम्भिक आन्तरिक ऊर्जा 70 J थी, तो इसकी अंतिम आन्तरिक ऊर्जा है –

  1. –150 J 
  2. 50 J 
  3. 90 J
  4. 110 J

Ans. 50 J  

Q.19) किसी गैस के दो नमूने A व B प्रारम्भ में समान ताप व दाब पर हैं। उन्हें संपीड़ित कर उनका आयतन V से V/2 किया जाता है। A को समतापी तरीके से व B को रुद्धोष्म तरीके से संपीड़ित किया गया है। A का अंतिम दाब है –  

  1. B से अधिक 
  2. B के बराबर 
  3. B से कम 
  4. B का दुगना

Ans. B से अधिक.

Q.20) एक वृत्ताकार चकती जिसकी त्रिज्या 0.5 मीटर एवं द्रव्यमान 25 किग्रा है अपनी धुरी पर 120 चक्कर/मिनट की रफ्तार से घूर्णन करती है। चकती का जड़त्व आघूर्ण होगा – 

  1. 1.550 किग्रा मी2 
  2. 3.125 किग्रा मी2
  3. 4.125 किग्रा मी2
  4. 6.250 किग्रा मी2

Ans. 3.125 किग्रा मी2

Q.21) दरवाजों में हैंडल दरवाजे के कब्जों से अधिक दूरी पर बाहरी किनारे पर लगाए जाते हैं –

  1. दरवाजों को आसानी से खोलने के लिए अधिकतम बल आघूर्ण लगाने के लिए।
  2. दरवाजों को आसानी से खोलने के लिए न्यूनतम बल आघूर्ण लगाने के लिए। 
  3. क्योंकि हैंडल की स्थिति से कोई फर्क नहीं पड़ता है । बाहरी किनारों पर हैंडल लगाना आसान होता है। 
  4. क्योंकि दरवाजा खोलते समय अंगुलियों पर कब्जों के कारण चोट न पहुँचे ।

Ans. दरवाजों को आसानी से खोलने के लिए अधिकतम बल आघूर्ण लगाने के लिए।

Q.22) परम शून्य ताप पर शुद्ध जरमेनियम और शुद्ध सिलिकॉन हैं –

  1. आदर्श चालक
  2. अच्छे अर्द्धचालक 
  3. आदर्श अचालक 
  4. चालक

Ans. आदर्श अचालक 

Q.23) एक अर्द्ध तरंग दिष्टकारी 50 Hz मुख्य आवृत्ति पर कार्य कर रहा है, इसके तरंग की मूल आवृत्ति होगी –

  1. 25 Hz 
  2. 70.7 Hz 
  3. 100 Hz 
  4. 50 Hz

Ans. 50 Hz 

Q.24) बीटा विकिरण में उत्सर्जित इलेक्ट्रॉन ________ से उत्पन्न होता है। 

  1. परमाणुओं की आंतरिक कक्षाओं
  2. नाभिक में मौजूद मुक्त इलेक्ट्रॉन
  3. एक नाभिक में एक न्यूट्रॉन का क्षय
  4. नाभिक से बाहर निकलने वाला फोटॉन

Ans. परमाणुओं की आंतरिक कक्षाओं

Q.25) ड्यूटीरियम नाभिक की बन्धन ऊर्जा प्रति न्यूक्लिऑन 1.115 Mev है । इस नाभिक के लिये द्रव्यमान क्षति का मान होगा –

  1. 2.23 u
  2. 0.0024 u
  3. 0.027 u
  4. 0.0012 u

Ans. 0.0024 u 

Leave a Reply

Your email address will not be published.